बेटी के पीले हाथ करने से पहले 3000 रु की रिश्वत में ट्रैप हुआ घुसखोर हैड कांस्टेबल 

फोकस भारत। राजस्थान मंडावर दौसा जिले के मंडावर थाने के हैडकांस्टेबल चतरुराम को तीन हजार की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया।

दौसा जिले के मंडावर थाने इलाके में मारपीट के एक मामले में दौसा एसीबी की टीम  ने गुरुवार को कार्यवाही करते हुए मंडावर थाने के हैंड कांस्टेबल चतरुराम को तीन हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार रीदली निवासी एक जने ने थाना पुलिस में मारपीट का एक मामला करीब महीने भर पहले दर्ज करवाया था। जिसमें चतरुराम हैड कांस्टेबल जांच अधिकारी था।

जिसने आरोपी अजय पुत्र पप्पू राम बैरवा से मामले में राजीनामा शामिल करने व  धारा हटाने की एवज में 5 हजार रुपये रिश्वत की मांग की, जिसमे पप्पू राम बैरवा ने हैड कांस्टेबल को 2 हजार रुपये की रिश्वत पूर्व में दे दी। वही जिसकी शिकायत पप्पू ने दौसा एसीबी में की।जिस पर एसीबी की टीम ने पुलिस निरीक्षक विजय सिंह के नेतृत्व में जाल बिछाया। एसीबी की टीम ने घूंस खोर हैड कांस्टेबल से थाने के बंद कमरे में पूछताछ की। पूछताछ के दौरान घूस खोर हैड कांस्टेबल ने मुँह छिपता रहा। वही एसीबी की कार्यवाही की सूचना मिलते ही मंडावर थाने में हड़कम्प मच गया। थाने के पुलिस कर्मी थाने की दीवार फांद कर भाग छुटे। वही कार्यवाही  के दौरान थाना इंचार्ज लालसिंह भी परेशान दिखे।