‘लोग मर रहे हैं, लेकिन नई संसद का निर्माण क्यों जारी है’?

फोकस भारत। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर लगातार सवाल उठ रहे है कि देश में कोरोना त्रासदी के वक्त में नई संसद का निर्माण कार्य कैसे जारी है। 

“इस निर्माण को रोकें और सभी भारतीयों को ऑक्सीजन और मुफ़्त वैक्सीन दिलाने के लिए पैसे का उपयोग करें”

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी(Sitaram Yechury) ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है।  अगर आप कुछ नहीं कर सकते, तो कुर्सी से उतर क्यों नहीं जाते, उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है- आप ऑक्सीजन नहीं दिला सकते, आप वैक्सीन नहीं दिला सकते, आप दवा और अस्पताल में बेड नहीं दिला सकते, आप किसी तरह की सहायता नहीं दिला सकते, आप सिर्फ़ भ्रामक प्रचार, बहाने और असत्य ही फैला सकते हैं, सीताराम येचुरी ने अपने ट्वीट के आख़िर में इरतिज़ा निशात का एक शेर लिखा है- कुर्सी है तुम्हारा जनाज़ा तो नहीं है, कुछ कर नहीं सकते तो उतर क्यों नहीं जाते। ” एक अन्य ट्वीट में नई संसद की इमारत की ख़र्च का ज़िक्र करते हुए सीताराम येचुरी ने ट्वीट किया है- इस निर्माण को रोकें और सभी भारतीयों को ऑक्सीजन और मुफ़्त वैक्सीन दिलाने के लिए पैसे का उपयोग करें। ये कितनी भद्दी बात है कि मोदी अपने दंभ में निर्माण कार्य जारी रखे हुए हैं और लोग बिना साँस के मर रहे हैं।

 

नई संसद और मूर्तियों के निर्माण में हज़ारों करोड़ ख़र्च हो रहे हैं और वैक्सीन के लिए पैसा नहीं है? 

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की तीसरी बार मुख्यमंत्री बनी ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने गुरुवार को केंद्र (Central Government) की कोरोना नीति पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा, ‘केंद्र द्वारा कोई पारदर्शी नीति नहीं है, मैंने PM मोदी को लिखकर इसमें बदलाव का आग्रह किया है। इतना ही नहीं, ममता ने मुफ्त टीकाकरण (Free Vaccination) के मुद्दे पर भी केंद्र सरकार को घेरते हुए कहा, ‘पीएम मोदी से मुझे अब तक कोई जवाब नहीं मिला है, जबकि वे  20,000 करोड़ रुपये खर्च करके नई संसद और मूर्तियां बना रहे हैं, लेकिन टीकों के लिए 30,000 करोड़ रुपये आवंटित नहीं कर रहे हैं, ममता ने पूछा कि पीएम केयर फंड (PM Care Fund) कहां है? क्यों वे युवा लोगों के जीवन को खतरे में डाल रहे हैं?