जम्मू-कश्मीर में परिसीमन से बदले राजनीतिक समीकरण, जानिए

Jammu Kashmir Delimitation- जम्मू-कश्मीर परिसीमन आयोग ने अपनी रिपोर्ट सार्वजनिक कर दी है। इनमें छह सीटें जम्मू व एक सीट कश्मीर संभाग में बढ़ी है। सात सीटें बढ़ने के साथ ही प्रदेश में विधानसभा की 90 सीटें हो गई हैं। इनमें सात सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित की गई हैं। प्रदेश की पांच लोकसभा सीटों का भी पुनर्निर्धारण किया गया है। दरअसल जम्मू-कश्मीर परिसीमन आयोग ने अपने 26 महीने के रिकॉर्ड कार्यकाल में विधानसभा क्षेत्रों के निर्धारण का काम पूरा कर उसे अंतिम रूप दे दिया है।

राज्य पुनर्गठन अधिनियम के अनुसार प्रदेश में सात सीटें बढ़ाई गई हैं। इनमें छह सीटें जम्मू व एक सीट कश्मीर संभाग में बढ़ी है। सात सीटें बढ़ने के साथ ही प्रदेश में विधानसभा की 90 सीटें हो गई हैं। इनमें सात सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित की गई हैं।  राज्य में अक्टूबर-नवंबर में चुनाव हो सकते हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि परिसीमन का काम पूरा होते ही जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव होंगे।