जयपुर में कौन बनेगा मेयर ?

फोकस भारत। राजस्थान 6 नगर निगम चुनाव के रिजल्ट आ गए है।  जयपुर में दो नगर निगम है। जयपुर हैरिटेज और जयपुर ग्रेटर नगर निगम। दोनो सीट ओबीसी महिला मेयर बनेगी।  फोकस भारत सूत्रो से मिली जानकारी के आधार पर कुछ नाम बता रहा है जिनमें से मेयर बन सकती है महिलाएं ।

जयपुर ग्रेटर नगर निगम में संभावित मेयर नाम

शील धाभाई- झोटवाड़ा विधानसभा के वार्ड 60 से जीती, जो संघ निष्ठ भी हैं और दूसरे बोर्ड में भी मेयर रह चुकी हैं। वरिष्ठता के आधार पर शील धाभाई की दावेदारी सबसे मजबूत है। साथ ही गुर्जर समाज का भी अहम चेहरा भी हैं।

सौम्या गुर्जर- सांगानेर विधानसभा के वार्ड 87 से जीतीं,  ये गुर्जर समाज का युवा चेहरा तो है । संघ पृष्टभूमि के अलावा सौम्य खुद भी महिला आयोग की सदस्य रही और जिला परिषद की सदस्य भी रही। सौम्य के पति राजाराम गुर्जर भी करौली से सभापति रह चुके हैं।

भारती लख्यानी- सांगानेर विधानसभा के वार्ड 75 से जीती, भारती विधायक अशोक लाहोटी के नजदीकी व पूर्व चेयरमैन रहे मुकेश लख्यानी की पत्नी हैं, इन्हें सिंधी समाज की होने की वजह से इनकी दावेदारी खासी मजबूत है।

जयपुर हैरिटेज नगर निगम के संभावित मेयर नाम

सुनीता मावर- आदर्श नगर विधानसभा के वार्ड 85 से पार्षद का चुनाव जीत गई हैं। सबसे बड़ा प्लस पॉइंट है कि मावर तीसरी बार पार्षद चुनी गई हैं और इनका पूरा परिवार कांग्रेसनिष्ठ है, जिसके चलते बड़े नेताओं के नजदीकी हैं। और ओबीसी का बड़ा चेहरा भी।

मुनेश गुर्जर- सिविल लाइन विधानसभा के वार्ड 43 से पार्षद चुनकर आई हैं। इनके साथ भी प्लस पॉइंट है कि मुनेश गुर्जर दूसरी बार पार्षद बनीं हैं और शहर में गुर्जर समाज का जाना-पहचाना चेहरा भी हैं तथा मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास के नजदीकी भी हैं।

नसरीन बानो –किशनपोल के वार्ड 64 से जीती, उनके ससूर अब्दुल रऊफ कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष हैं और उनके पिता भी पार्षद रहे। मुस्लिम समाज का युवा चेहरा हैं और ओबीसी मेयर बनने का पहला मौका है।